बच्चों को आसानी से लिखना सिखाएं, 12 बेहतरीन तरीक़ों से (bacchon ko likhna kaise sikhaye)ऐक्टिविटीज़ और उसका मेटेरीयल
नर्सरी क्लास के बच्चों को लिखना कैसे सिखाएं? नर्सरी क्लास में बच्चों को एबीसीडी, 123, हिंदी वर्णमाला लिखवाया जाता है. अगर आपके बच्चे लिखना नही जानते हैं तो जाने 3-4 साल के बच्चों को लिखना कैसे सिखाएं?

हम सब के जीवन में ‘लिखना’ एक महत्त्वपूर्ण हिस्सा है. आप सब भी ये जानते हैं कि अगर बच्चे अपने उत्तर बहुत अच्छी तरह लिख रहे हैं और उनकी लिखाई(Handwriting) अच्छी नही हैं, तो वे अच्छे नम्बर स्कोर नही कर पाते.

जबकि अगर बच्चा Handwriting यानी लिखाई अच्छी कर लेता है तो हमेशा उसे writing के एक्स्ट्रा मार्क्स मिलते हैं. इस आर्टिकल में आप जानेंगे कि 3-4 साल के बच्चों को लिखना कैसे सिखाएं? इसके साथ ये भी जानेंगे कि छोटे बच्चों को घर पर लिखना कैसे सिखाएं? chhote bachchon ko ghar par likhna kaise sikhayen in Hindi?

‘लिखना’ बच्चे का एक बहुत इम्पोर्टेंट माइल्स्टोन है, इसके लिए बच्चे को आपके सपोर्ट की बहुत ज़रूरत है.

Table of Contents

बच्चों को आसानी से लिखना कैसे सिखाएं? 12 बेहतरीन तरीके

बच्चे को किस उम्र में लिखना शुरू करना चाहिए?

2.5 – 3 साल की उम्र में बच्चों को लिखना शुरू करना चाहिए. 3 साल की उम्र में बच्चों का नर्सरी एडमिशन होता है और स्कूल में बच्चों को ABCD, 123 और हिंदी वर्णमाला लिखवाया जाता है. बच्चे नर्सरी एडमिशन के इंटरव्यू से पहले ABCD और 123 पहचानना सीख चुके होते हैं. इससे बच्चों को इंग्लिश लिखना सीखने में और नम्बर लिखना सीखने में बहुत हेल्प मिलती है.

बच्चों को लिखना सीखने के लिए कैसे प्रोत्साहित ( Encourage) करे?

बच्चों को मज़ेदार और प्रभावी तरीक़ों से लिखना सीखने के लिए प्रोत्साहित करे. जब बच्चा लिखना शुरू करता है तो उसके लिए वह एक स्पेशल occasion होता है और पेरेंट्स के लिए भी.

यह बच्चे का वह माइल्स्टोन है, जहां पेरेंट्स को बच्चे पर बहुत ध्यान देना चाहिए. बच्चे को लिखना इतने इंट्रेस्टिंग तरीक़े से सिखाएं, जैसे वह किसी खिलौने से खेलना सीखता है,घंटो खेलता है, ख़ुश होता है और ताली बजाता है.

बच्चे को लिखना सीखाने ने के लिए आपको पहले उसकी fine motor skills(उँगली की मांसपेशियों) पर काम करना होगा. आपको बच्चे की हाथों की मसल्ज़ को मज़बूत करना होगा, जिससे वह आसानी से पेंसिल पकड़ सके और लिख सके.

बच्चे को लिखना बोरिंग नही लगना चाहिए, नही बोझ लगना चाहिए. आपको बच्चे को लिखना कैसे सिखाएं एक फ़न ऐक्टिविटी की तरह पेश करना है, जिससे बच्चा लिखने के लिए प्रोत्साहित हो.

3- 4 साल के बच्चों को आसानी से लिखना कैसे सिखाएं ? 12 बेहतरीन तरीक़े

बच्चों को लिखना सिखाना एक कला है. आप इसे जितना creative बनाएँगे, बच्चे उतना ही ख़ुश होकर लिखना सीखेंगे. हम आपको यहाँ कुछ ऐसे इंटेरस्टिंग Pre Writing Activities बता रहे हैं, जिससे बच्चों की fine motor skills मज़बूत होंगी और बच्चे ज़्यादा से ज़्यादा लिखने में रुचि लेंगे.

आप जानते ही हो जो बच्चे लिखने में रुचि लेते हैं, उन बच्चों की पढ़ाई-लिखाई बहुत ही आसान हो जाती है और वे बहुत अच्छा पर्फ़ोर्म कर पाते है.

ये ऐक्टिविटीज़ आप बच्चे को 2- 2.5 साल की उम्र में शुरू कर सकते हैं.

1. लिखने का माहौल बनाएं

बच्चे हमेशा अपने पेरेंट्स को कॉपी करते हैं. जब आप बच्चे को लिखना सिखाना शुरू करने वाले हैं, तब आप ऐसे दिखाएं कि आपको लिखना बहुत अच्छा लगता है.

Grocery लिस्ट, सब्ज़ी व फल की लिस्ट और मार्केट की शोपिंग लिस्ट, सब बच्चे के सामने लिखे.

यक़ीन मानिए बच्चों का ध्यान जाएगा कि आप क्या-क्या लिख रहे है? बच्चों को लिस्ट बनाने में इन्वोल्व कीजिए. बच्चा लिखने के लिए प्रोत्साहित होगा.bachchon ko ghar par likhna kaise sikhayen in Hindi बता रहे हैं.

2. सूजी प्लेट ऐक्टिविटी

बच्चे को एक बड़ी प्लेट में सूजी फैला कर दे. आप उसे अपनी इंडेक्स फ़िंगर से सूजी में lines ड्रा कर के दिखाएं. बच्चा भी आपको देखकर ड्रा करेगा.

थोड़ी देर आप उसे सूजी से खेलने दे. आप देखोगे कि बच्चा मुट्ठी में सूजी को भरेगा और छोड़ेगा. इससे उसकी हाथ की मांसपेशियाँ बहुत मज़बूत होंगी और बच्चे को लिखने में आसानी होगी.

आप उसके साथ रहे. अपनी देख-रेख में ही करवाएं.

3. Paper Cutting by Scissors

यह बच्चों की ग्रिप मज़बूत करने लिए बहुत अच्छी ऐक्टिविटी है. आप बच्चे को रंगीन पेपर दे और डिफ़्रेंट डिज़ाइन काटने वाली scissors दे. 1 scissors खुद ले और एक ​scissors ​बच्चे को दे. फिर डिज़ाइनदार पेपर कटिंग करे.

आपको कटिंग करके बहुत ख़ुश होना है, बोलना है “अरे वाह! कितनी अच्छी कटिंग हो रही है”.
बच्चा भी आपको देखकर कटिंग करेगा. आपको उसकी बहुत तारीफ़ करनी है. यह ऐक्टिविटी आप 10-15 min तक करे.

बच्चे के हाथ की मांसपेशियां मज़बूत होंगी. बच्चे को लिखना सिखाना बहुत आसान हो जाएगा.

इस ऐक्टिविटी को करने के लिए हम आपको यहाँ बहुत सुंदर Craft Scissors बता रहे हैं.

Children Safety Craft Scissors

ये बहुत ही सुंदर scissors हैं.

Craft Scissors की मुख्य विशेषताएँ:

  • यह तीन scissors का पैक है.
  • इसमें तीन आलग -अलग डिज़ाइंज़ काटने वाली assorted scissors हैं: zig-zag, curves, straight cut.
  • ये Scissors बहुत आकर्षक रंगों में हैं, जो बच्चों को बहुत लुभावने लगते है.
  • यह नॉन-टॉक्सिक मेटेरीयल से बने हैं.
  • यह लर्निंग scissors बच्चे के लिए सेफ़ हैं.
  • इसके हैंडल इस तरह से बने हैं, जिससे पेपर कटिंग करने से बच्चे की ग्रिप मज़बूत होगी.
  • ये scissors बच्चे की फ़ाइन मोटर स्किल्लस के लिए बेस्ट टूल हैं.

 

Buy on Amazon

 

4. पेपर फाड़ना

बच्चे को रंगीन पेपर दे, अलग-अलग रंगो के. आप बच्चे को छोटा-छोटा फाड़ कर दिखाएं और बच्चे को भी फ़ाड़ने को कहे. आपको बच्चे के हर एफ़र्ट की तारीफ़ करनी है.

आप वाइट पेपर लेकर उस पर कोई शेप बनाएं. फिर फ़ेविस्टिक से उस शेप के अंदर फटे हुए papers बच्चे से चिपकवाएँ.

इस ऐक्टिविटी से बच्चे की Hand की muscles मज़बूत होंगी और बच्चा लिखने के लिए तैयार हो जाएगा.

5. बच्चे को clay dough खेलने को दे

Clay से खेलने और नयी-नयी चीजें बनाने से, बच्चे के हाथ और दिमाग़ का बहुत अच्छा coordination बनता है. बच्चा हाथ से क्ले को रोल करता है. नयी-नयी चीजें इमैजिन करता है और हाथों से बनाता है. इससे उसके हाथों का मूवमेंट होता है.

बच्चे को लिखना सिखाने से पहले, ये ऐक्टिविटी बहुत कामयाब है. इसे आप बच्चे से रोज़ करवाएँ. बच्चे क्ले से खेलने से बहुत ख़ुश होते हैं.

यहाँ हम आपको Best Seller Clay Dough बता रहे हैं, जो आपके बच्चे की फ़ाइन मोटर स्किल्लस मज़बूत करने में हेल्प करेगी.

Pidilite Plastic Rangeela Creative Clay Pack

इस क्ले पैक की मुख्य विशेषताएँ:

  • पैक में 12 रंग की क्ले, मोल्डिंग टूल्स और रोलर्ज़
    हैं.
  • बच्चों के लिए बहुत ही सेफ़ है.
  • बच्चों के लिए बेस्ट एजुकेशन टॉय है.
  • मज़ेदार और क्रीएटिव ऐक्टिविटी है.
  • इसमें animals के मोल्ड्ज़ हैं, जो बच्चे की शेप और कलर recognition में हेल्प करते हैं.
  • इसमें ऐसे high क्वालिटी ingredients इस्तेमाल किए हैं, जिससे dough सूखती नही हैं.

बच्चे की Pre Writing Skills के लिए बेस्ट टूल हैं.

 

Buy on Amazon

 

6. Beans अलग-अलग कराएं

बच्चे को एक बड़े कटोरे में राजमा,छोले, बटन मिला कर दे और तीन कटोरियाँ भी दे.

बच्चे को राजमा, छोले और बटन अलग-अलग करने को कहें और अलग-अलग कटोरियों में डालने को दे.

ये ऐक्टिविटी बच्चों की उँगलियाँ मज़बूत करने की सबसे अच्छी ऐक्टिविटी है.bacchon ko likhna kaise sikhaye में बहुत कारगर है.

7. Blocks खेलने को दे

बच्चों के लिए Blocks कमल के टॉय हैं. बच्चों को लिखना सिखाने से पहले सारे alphabets, numbers अच्छी तरह से पहचान करवाएँ. इसके लिए बच्चे के साथ गेम खेले.

उससे कोई भी alphabet पूँछे और उसे उठाने दे. Blocks पकड़ने से बच्चे की grip बहुत अच्छी हो जाएगी.

हम आपको यहाँ बहुत बढ़िया Blocks बता रहे हैं, जिससे आप बच्चे को ऐक्टिविटी करवा पाएँगे.

Baby First Block Activity Toy Sorter

  • बच्चों के लिए सेफ़ है.
  • नॉन टाक्सिक मेटेरीयल से बना है.
  • फ़ाइन मोटर स्किल्ल्स डवलप करने के लिए बेस्ट टॉय है.
  • शेप्स और alphabets को अलग-अलग करना और मोल्ड में डालना.
  • बच्चों को इंग्लिश लिखना सिखाने की सबसे पहली ऐक्टिविटी है.

 

Buy on Amazon

 

8. Crayon से scribble करवाएँ

बच्चों को एक वाइट शीट दे और खुद भी एक शीट ले ले. बच्चों को एक crayon दे. उसका कलर बताएँ और बच्चे को शीट पर लिखने को कहे. खुद भी बच्चे को लाइन डालकर दिखाएं.

बच्चा कुछ भी आड़ी-तिरछी लाइन बनाएगा. आप उसे बनाने दे और बच्चे की खूब तारीफ़ करे. उसे खूब कलर चलाने दे. बच्चे के लिखे पेपर को डेकोरेट करे. बच्चे से कम से कम 10 दिन तक ये ऐक्टिविटी कराएँ.

हम यहाँ आपको बहुत अच्छे crayons बता रहे है, जिससे बच्चे की grip मज़बूत होगी और वह पेन्सिल पकड़ने के लिए तैयार हो जाएगा.

बच्चा cryon को मिड फ़िंगर पर रेस्ट कराए और इंडेक्स फ़िंगर व थम्ब के बीच में crayon को पकड़े. आप खुद पकड़ कर दिखाएं.

Camel Triangular Plastic Crayon

  • बच्चों के अच्छे कंट्रोल के लिए स्पेशल डिज़ाइन की Triangular grip Crayons हैं.
  • इसमें 17 रंग के शेड, 1 इरेजर और 1 शार्पनर हैं.
  • हाथ पर इनका रंग नही चढ़ता.
  • दीवार और फ़र्श से साफ़ किए जा सकते हैं.
  • आप इसे शार्प कर सकते हो और मिटा भी सकते हो.
  • International Safety standards EN 71-3 ने कन्फ़र्म किया है कि ये नॉन-टाक्सिक हैं और सेफ़ हैं.
  • इससे बच्चा पेंसिल का कंट्रोल सीख जाता है.
Buy on Amazon

9. बच्चों से Lines ​बनवाएँ

अब आपने बच्चों को Standing lines, Sleeping lines और curved lines बनानी सिखानी हैं. ये बच्चों को पेंसिल पकड़कर लिखना सिखाने की सबसे बेहतरीन ऐक्टिविटी है. अब आप बच्चे को पेंसिल पकड़ना बताएँ और line को ट्रेस करना सिखाएँ.
आप खुद करके दिखाएं. बच्चे की तारीफ़ करे. चाहे वह ठीक से करे या नही. आप सही तरीक़े बताते रहे. जब तक बच्चा सही से ट्रेस न करने लगे. आप रोज़ ये ऐक्टिविटी करवाते रहे.

हम आपको Pencil control के लिए बहुत अच्छा Book set बता रहे हैं.

My First Super Box Set of Pencil Control And Patterns

इस set की मुख्य विशेषताएँ:

  • इस pack में 4 interactive activity Books हैं Patterns, Numbers और Alphabets की.
  • ये ऐक्टिविटी बुक्स बच्चों का पेंसिल कंट्रोल सीखने के लिए हैं.
  • बच्चों की Pre Writing Skills के लिए ये tracing exercises बहुत ज़रूरी हैं.
  • बच्चे standing lines, Curved linesऔर zig-zag lines सीख पाएँगे.
  • Alphabets और Numbers लिखना भी सीख पाएँगे.
  • नर्सरी के बच्चों को लिखना सिखाने में ये किताबें अद्भुत हैं.

 

Buy on Amazon

 

10. बच्चों को इंग्लिश लिखना कैसे सिखाएं?

अगर आपने ऊपर दी हुई सारी ऐक्टिविटीज़ बच्चे को करा ली हैं.
बच्चे ने sleeping lines, standing lines और curves बनाने में महारथ हासिल कर ली है. अब बच्चा अच्छे से पेंसिल चलाना सीख चुका है. न हल्का चला रहा है, न बहुत दबाकर. आपने शुरू में इस बात का बहुत ध्यान रखना है.

हम आपको बताने जा रहे हैं कि बच्चे को इंग्लिश लिखना कैसे सिखाएं?

पहले आप Standing lines और Sleeping lines वाले alphabets छाँट ले, जैसे:

E, F, H, I, L, T, Z

इन्हें बुक में ट्रेस कराएं. ये बच्चे आसानी से लिखना सीख जाएँगे.chhote bachchon ko ghar par likhna kaise sikhayen in Hindi बता रहे हैं.

अब आप Slanting lines वाले alphabets ले, जैसे:
A, K, M, N, V, W, X, Y

अब इनकी खूब प्रैक्टिस करवाएँ. जब बच्चा इनमे पारंगत हो जाएँ.

अब आपको Curves वाले alphabets लेने हैं, जैसे:

B, C, D, G, J, O, P, Q, R, S

अब आप बच्चे से इन्हें लिखवाएँ. आपको एक letter कम से कम 2-3 दिन ज़रूर लिखवाना है.

11. बच्चों को numbers लिखना कैसे सिखाएं?

इसमें भी पहले आप Standing और Sleeping lines वाले numbers लिखवाएँ, जैसे:

1, 4, 7

इनकी अच्छी तरह से प्रैक्टिस करवाएँ.

फिर curves वाले numbers लिखवाएँ, जैसे:

2, 3, 5, 6, 8, 9, 10

बच्चे को 1 नम्बर कम से कम दो -तीन दिन लिखवाएँ.

12. बच्चों को हिंदी वर्णमाला लिखना कैसे सिखाएं?

जब बच्चे इंग्लिश लिखने में और नम्बर लिखने में एक्स्पर्ट हो जाएँ. तब आप हिंदी वर्णमाला लिखवानी शुरू करे.

Sleeping lines और Standing lines वाले पहले और curve वाले बाद में. हिंदी लिखनी थोड़ी डिफ़िकल्ट है. इसलिए आपको बहुत सब्र रखना है और धीरे-धीरे बच्चे को लिखना सिखाना है.

Conclusion

हमने इस आर्टिकल में 3-4 साल के बच्चों को आसानी से लिखना कैसे सिखाएं? 12 बेहतरीन तरीक़े बताए हैं. नर्सरी के बच्चों को लिखना कैसे सिखाना चाहिए?bacchon ko likhna kaise sikhaye, chhote bachchon ko ghar par likhna kaise sikhayen in Hindi बताया है.

हमने बच्चों की लिखना सीखने की सही उम्र और उन्हें लिखने के लिए कैसे प्रोत्साहित करे, सब डिटेल में बताया है.
बच्चों की फ़ाइन मोटर स्किल्लस को कैसे बढ़ाए? इसके लिए ऐक्टिविटीज़ बतायी है और ऐक्टिविटीज़ का मेटेरीयल भी सजेस्ट किया है. हर बच्चे के सीखने की क्षमता अलग होती है. आप को सब्र रखना है और निरंतर प्रयास करना है.

हमने इस बारे में भी बात की है – बच्चों की पढ़ाई ख़ुशी से कैसे कराएँ l 25 लाजवाब उपाय (3-6 years old) . कृपया उस लेख को भी पढ़ें

आप को ये जानकारी पसंद आयी हो तो like करे, share करे और subscribe करे. जिससे आपको अगले आर्टिकल की जानकारी मिलती रहे. Comment अवश्य करे.

आपका बच्चा बहुत सुंदर लिखे,
बहुत सारे प्यार के साथ,
आपकी मित्र विभा

FAQ
Q1. क्या बच्चों की फ़ाइन मोटर स्किल्लस की ऐक्टिविटीज़ करनी ज़रूरी हैं?

Ans. जी हाँ! जिन बच्चों की ग्रिप अच्छी नही बनती या हाथों की मसल्ज़ मज़बूत नही होती, वे बच्चे लिखने से कतराने लगते हैं.

Q2. क्या बच्चों को ABCD क्रम से नही सिखा सकते?

Ans. सिखा तो सकते हैं, लेकिन बच्चों को बहुत परेशानी होगी. अगर सिंपल से डिफ़िकल्ट की तरफ़ जाएँगे, तो बच्चे आसानी से सीख पाएँगे और handwriting भी सुंदर बनेगी.


Vibha Sharma

Hi, मैं Vibha Sharma हूँ. मैं एक Child Development Expert और Mom Influencer हूँ. मैं Maonduty की Founder हूँ. मैं तीन बच्चों की माँ हूँ. मेरी बड़ी बेटी Mechanical Engineer है, छोटी बेटी Lawyer है और बेटा Reputed College से Law कर रहा है. मेरे बच्चे हमेशा Scholar रहे. उन्होंने बहुत सारे इनाम जीते Debates, Essay writing, sports, arts, story telling, fancy dress and Theatre etc मैं यहाँ आपको Parenting के पर्सनल अनुभव share कर रही हूँ. मेरा mission 100000000+Parents की parenting journey को Happy and Easy बनाना है 🙏😊❤️ आप मुझे Instagram पर भी follow कर सकते है. मैं वहाँ Calm Parenting tips देती हूँ.😊💐

0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Summer Vacation में बच्चों से कराएं ये 5 चीज़ें और उन्हें बनाएं Confident और Independent बच्चों को Mentally strong बनाने के लिए इनमें से 1 चीज़ ज़रूर सिखाएं हनुमान जी के नाम पर बच्चों के मॉडर्न, अद्भुत और साहसी नाम