बच्चों के माइंड गेम्स, चलिए बताते है बच्चों के माइंड गेम्सचलिए बताते है बच्चों के माइंड गेम्स

पेरेंट्स हमेशा चाहते हैं कि उनका बच्चा शुरू से ही तेज बुद्धि का हो. वैसे भी आगे चलकर बच्चों को बहुत कठिन कंपीटिशन देने होते हैं और ये मेरा पर्सनल एक्स्पिरीयन्स है कि सिर्फ़ कोर्स की किताबें पढ़ने से बच्चे कामयाब नहीं हो सकते. मैंने अपने खुद के बच्चों के लिए ऐसे बच्चों के गेम,पज़ल गेम खोजे, जिससे उनका मानसिक विकास हो सके.बच्चों की मोबाइल की लत छुड़ाने का भी उपाय है ये सारे गेम.

बच्चों को माइंड गेम्स खिलाने का फ़ायदा यह है कि बच्चे खेल-खेल में इन सारी कंपीटिशंस जैसे: Olympiads, NTSE,AIEEE, CLAT, UPSC और IAS की तैयारी बचपन से ही कर सकते है. उनका दिमाग़ कब लोजिकल रीज़ॉनिंग करना सीख जाएगा. आपको पता भी नहीं पड़ेगा.

यही कारण है ​​कि maonduty के इस लेख में हम बच्चों के लिए ऐसे लाजवाब और रोचक माइंड गेम्स लाए है, लेकिन उससे पहले हम आपको यह बताना चाहेंगे कि ब्रेन गेम्स क्यों ज़रूरी हैं? बच्चों के लिए बेहतरीन ब्रेन गेम्स जानने के लिए इस लेख को आख़िर तक पढ़े और अपने बच्चों को तेज-तर्रार बनाएँ.

हमें पूरा यक़ीन है कि बच्चे ये शानदार माइंड गेम्स खेलकर ख़ुश भी होंगे और साथ ही साथ उनका दिमाग़ भी तेज होगा.

बच्चों को ब्रेन गेम्स क्यों खेलने चाहिए?

बच्चों को दिमाग़ी खेल खिलाना, उनके मानसिक विकास के लिए बहुत इम्पोर्टेंट है. बच्चों के मानसिक विकास के लिए, Unicef का कहना है ​कि फ़िज़िकल ऐक्टिविटी या दिमाग़ी खेलो से बच्चे के मस्तिष्क का तेज़ी से विकास होता है. यही नहीं खेलने से दिमाग़ के साथ-साथ बच्चों का स्वास्थ्य भी बढ़िया हो जाता है. शोध ये भी बताते हैं कि खेल का बच्चों के सम्पूर्ण विकास पर बहुत असर पड़ता है. खेलने से बच्चों का शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य, सीखने की क्षमता और सफलता को भी प्रभावित करता है.

0-8 वर्ष तक की उम्र बच्चों के लिए अद्भुत वर्ष होते हैं. इनका लाभ ज़रूर उठाएँ.

चलिए, अब जानते हैं बच्चों के लिए 16 लाजवाब गेम्स.

तेज बनाएं बच्चों के बेस्ट गेम l बच्चों के लिए 16 लाजवाब और रोचक माइंड गेम्स

जैसे कि हमने आपको बताया है कि बच्चों के दिमाग़ी विकास के लिए,बच्चों के गेम बेमिसाल हैं. इसलिए हम आपको यहाँ 16 ऐसे लाजवाब और रोचक माइंड गेम्स के बारे में पूरी जानकारी दे रहे हैं, जिन्हें बच्चे बहुत आराम से खेल पाएँगे और मज़े भी करेंगे. बच्चे कुछ गेम्स अकेले खेल पाएँगे और कुछ के लिए साथियों की ज़रूरत पड़ेगी.
तो चलिए पता करते है, बच्चों के गेम और पज़ल गेम के बारे में:

1.Memory गेम :

ये बच्चों का गेम बच्चे की Memory पावर को बढ़ाता है. उसका कॉन्सेंट्रेशन लेवल बढ़ता है. ये गेम बच्चों का दिमाग़ तेज करने की बहुत बढ़िया तरकीब है. एक ट्रे में 10 अलग-अलग चीज़ें रखे और बच्चे को 5-10 Seconds के लिए दिखाएं. उसके बाद ट्रे को कपड़े से ढक दे. अब बच्चे से सारी चीज़ें बताने के लिए बोले. आप इस Memory Game में सही उत्तर देने पर बच्चे के लिए कोई इनाम भी ज़रूर रखिए. बच्चे को बहुत मज़ा आएगा.

उम्र: 4+ साल
खेलने की सामग्री: ट्रे, शीट,items & रिवार्ड
स्पेशल नोट : आप इस Memory गेम में ज़्यादा आइटम्ज़ रखकर, इसे और चैलेंजिंग बना सकते हैं.

tray filled with fruits बच्चों के माइंड गेम्स ke liye

2. What do I see? What do I spy?

बच्चों के लिए लाजवाब और रोचक माइंड गेम्स में इस गेम को शामिल किया है. इस खेल को आप घर के अंदर खिला सकते हो. बच्चों के लिए यह खेल बहुत मनोरंजक है. आप बच्चों से एक सवाल पूछेंगे. उसी से सम्बंधित चीज़ बच्चे को खोजनी है. इसे खेलने से बच्चों के मस्तिष्क का विकास होता है.

प्रश्न: उस चीज़ का नाम बताओ जिसे हम दिन में 10 बार पीते हैं?
उत्तर: पानी

ladka pani pee raha hai

उम्र: 4 साल और उससे बड़े बच्चे

खेलने की सामग्री: ईनाम
स्पेशल नोट: जितने ज़्यादा बच्चों के साथ खेलोगे उतना ज़्यादा मज़ा आएगा.

3. बच्चों का गेम – कलर मैजिक:

दिमाग़ी विकास के लिए कलर मैजिक एक शानदार गेम है. यह दिमाग़ी खेल बच्चों को खिलाना बहुत लाभकारी है. इस खेल में आपको एक शीट पर कलर के नाम लिखने हैं, दूसरे कलर से. लेकिन जब उनको पढ़ना है तो उसके असली कलर का नाम बताना है, जैसे आपने BLACK लिखा है लेकिन Green कलर से लिख दिया. अब उसे पढ़ना Black है.

ऐसे ही अगला वर्ड ORANGE लिखना है Blue कलर से. लेकिन पढ़ना Orange है. इस ब्रेन गेम से बच्चे बहुत अलर्ट होना सीख जाते हैं. इस बच्चों के गेम से कॉन्सेंट्रेशन बढ़ती है.

BLACK ORANGE YELLOW

PURPLE GREEN PINK

BROWN BLUE

उम्र : 6 साल और उससे बड़े बच्चे
खेलने की सामग्री: शीट,कलर, रिवार्ड
स्पेशल नोट: आप स्टाप्वॉच से टाइम दे सकते है. गेम और इंट्रेस्टिंग हो जाएगा.

4. उल्टा-पूलटा- बच्चों का गेम:

यह Best Brain Game For Kids in Hindi में से एक है. इस ब्रेन गेम में आपको बच्चे से उल्टी Alphabets बोलने के लिए कहना है. Z से शुरू करके A पर ख़त्म करनी है. इससे बच्चे की एकाग्र होने की क्षमता बड़ेगी. बच्चे के दिमाग़ी विकास के लिए बहुत लाभकारी है.

इसी तरह से आप 20 से 1 की Counting बच्चे से पूँछ सकते हैं. बच्चों को इसमें बहुत मज़ा आता है.

उम्र : 4 साल
खेलने की सामग्री : रिवार्ड
स्पेशल नोट: आप counting बढ़ा सकते हैं. साथ में टाइमर रख सकते हैं.

5. मिरर- इमेज :

यह एक बहुत ही बेहतरीन बच्चों का गेम है. इस माइंड गेम से बच्चों का दिमाग़ी विकास होता है. आप बच्चे को कोई वर्ड या सेंटेंस मिरर में दिखाएं. वह मिरर में उल्टा दिखाई देगा. अब बच्चे से सीधा पढ़ने के लिए बोले. इस गेम से बच्चे की एकाग्रता और सोचने की क्षमता बढ़ती है.

उम्र: 4 साल और उससे बड़े बच्चे
खेलने की सामग्री: पेपर,पेन और रिवार्ड
स्पेशल नोट: बच्चे की उम्र के अनुसार डिफ़िकल्टी बढ़ाएँ.

6. Odd One Out:

यह बच्चों का गेम, Best Brain Game For Kids में से एक है. यह बड़े-बड़े कंपीटीशन में सबसे ज़्यादा पूछे जाने वालों प्रश्नो में से हैं. इस गेम को हम किसी भी उम्र के बच्चों के दिमाग़ के विकास के लिए प्रयोग कर सकते हैं. यह दिमाग़ी खेल बच्चों के लिए सर्वश्रेष्ठ ब्रेन गेम्स में से एक है.

यह गेम बच्चों की स्मृति और एकाग्रता में सुधार के लिए दिमाग़ी व्यायाम कराता है.
इसमें आपको चार चीज़ें एक थीम से सम्बंधित देनी है और पाँचवी बिल्कुल अलग देनी है. अब बच्चे को यह पहचानना है कि वह अलग चीज़ क्या है?

जैसे छोटे बच्चों (3+) को आप चार लेंड ट्रांसपोर्ट के सिम्बल दे दो और पाँचवा आप एयर ट्रांसपोर्ट दे दो.
बच्चे को आड वन आउट करने को बोले.

बड़े 6+ बच्चों को आप ऊपर वाला प्रश्न लिखकर दे.

Car Bus Truck Tempo Aeroplane

अब आप बच्चे से Odd One Out करने को कहें.

Ans. Aeroplane

उम्र: 3 साल और उससे बड़े बच्चे
खेलने की सामग्री: शीट,पेन,रिवार्ड
स्पेशल नोट: इस बच्चों के गेम को आप किसी भी उम्र के बच्चों को खिला सकते हो.

7. Letter Series:

यह ब्रेन गेम हमने इसलिए शामिल किया है क्योंकि इसके प्रश्न बड़े-बड़े कंपीटीशन में पूँछा जाता है. यह दिमाग़ी खेल, बच्चों का दिमाग़ तेज करने के अनोखे उपाय (interlink) में से एक है. इसको भी आप बच्चे की उम्र के अनुसार बढ़ा सकते है.

इस गेम को खेलने में बच्चों को बहुत मज़ा आएगा और आपको भी बहुत आनंद आएगा.
इस माइंड गेम को ऐसे खेला जाएगा.

1. A B C D?

a) O   b) H   c) L   d) E
ans. E

इस तरह के प्रश्न आप 3 साल के बच्चों से पूँछ सकते हैं.

2. B D F H J ?

a) L   b) O   c) M   d) K

सॉल्व करने का तरीक़ा:

B + 2 = D + 2 = F + 2 = H + 2 =J + 2 = L
Ans. a) L

उम्र: 3 साल और उससे बच्चे बड़े बच्चे
खेलने की सामग्री: शीट,स्केच पेन,रिवार्ड
स्पेशल नोट: हम आपको इस लेख के अंत में ऐसी बुक्स के नाम बताएँगे. जिसमें से आप बच्चो के लिए और ऐसे माइंड गेम्स बना पाएँगे. हमारे साथ अंत तक बने रहिए.

8. Number Series वाला बच्चों का गेम

यह बच्चों के लिए बेस्ट माइंड गेम के लिस्ट में शामिल किया जा सकता है. बच्चों के लिए यह गेम बहुत शानदार है और इसे खेलना बहुत आसान है. इसके लिए आप दो खिलाड़ी अलग-अलग बैठा सकते हैं और उनमें से जो जल्दी सॉल्व करेगा. उसे इनाम दे.

इस दिमाग़ी खेल को इस तरह खिलाएं. इस नम्बर सिरीज़ को पूरा करवाएँ.

2, 4, 6, 8 ?

ans.  a) 7   b) 12   c) 9   d) 10

सॉल्व करने का तरीक़ा:

2 + 2 = 4 + 2 = 6 + 2 = 8 + 2 = 10

उत्तर: 10

उम्र : 4 साल और उससे बड़े बच्चे
खेलने की सामग्री: शीट, पेन, रिवार्ड
स्पेशल नोट: जितनी उम्र का बच्चा हो, उतना प्रश्न को डिफ़िकल्ट करते जाएँ.

9. Riddles

आपको एक गाना याद है राज कपूर की फ़िल्म का गाना:

1) तीतर के दो आगे तीतर, तीतर के दो पीछे तीतर, आगे तीतर, पीछे तीतर, बोलो कितने तीतर?

आपको इसी तरह से पहेलियाँ बनानी हैं और बच्चे से पूँछनी हैं.

2) हरी थी मन भरी थी, लाख मोती जड़ी थी!
राजा जी के बाग में दुशाला ओड़े खड़ी थी!!

उत्तर. कॉर्न (भुट्टा)

यह बच्चों के लिए माइंड गेम, बच्चों की इमैजिनेशन बढ़ाने के लिए करगार है. इस गेम से बच्चों का मानसिक विकास होता है. आपको और आपके बच्चों का बहुत ​मनोरंजन होने वाला है.

तीतर

उम्र: 7 साल और उससे बड़े बच्चे
खेलने की सामग्री: रिवार्ड
स्पेशल नोट: हम आपको लेख के अंत में रिडल्ज़ की बुक बताने वाले है. अंत तक साथ चलिए

10. बच्चों के लिए माइंड गेम-मैचिंग पज़ल गेम

बच्चों के दिमाग़ी विकास के लिए बहुत बहुत ही बेहतरीन गेम है और बड़ी आसानी से खेल जा सकता है. इसे आप बच्चे को अकेले खेलने के लिए भी दे सकते हैं. बच्चे की सोचने की क्षमता को बढ़ाने के लिए यह बच्चों का गेम इस्तेमाल कर सकते हैं.

इस मैचिंग पज़ल गेम को ऐसे खिलाएं.

बच्चे को खेलने के लिए एक वर्कबुक दे. जिसमें फल,फूल और जानवर बने हो. इसमें तरह-तरह की वर्कबुक्स आती हैं. किसी में जानवर और उसका घर मैच करना होता है.

अगर बच्चा एक पेज की सारी चीज़ें को मैच कर देता है तो वह गेम जीत गया. उसे इनाम दे.

उम्र : 3 साल
खेलने की सामग्री: पज़ल गेम की वर्कबुक, पेन्सल या पेन,मैचिंग कार्ड
स्पेशल नोट: आप बच्चे को बहुत सारी वराइयटी की वर्कबुक दे सकते हैं.

11. रोल-प्ले गेम:

बच्चों को कोई रोल-प्ले करवा​एं, चार बच्चों के ग्रूप को कोई काम दे और उनसे पूरा करवाएं. डाइनिंग टेबल सेट करवाना, गमलों की सफ़ाई, कमरे को व्यवस्थित करना, ऑफ़िस-आफिस खेलना. इससे बच्चों को टीम वर्क करना आएगा. प्रॉब्लम साल्विंग क्षमताएं बढ़ेंगी. बच्चों के इस गेम में बच्चों को बहुत आनंद आता है.

उम्र: 4 साल और उससे बड़े बच्चे
खेलने की सामग्री: टास्क के अनुसार, रिवार्ड
स्पेशल नोट: जितने ज़्यादा उम्र के बच्चे होंगे, उतनी ही डिफ़िकल्टी बढ़ाते जाएं.

12. शब्दों से कहानी बनाना:

बच्चों के दिमाग़ी विकास के लिए उनकी कल्पना शक्ति को बढ़ाना बहुत ज़रूरी है. यह खेल उनकी रचनात्मक शक्ति को बढ़ाएगा. उनकी vocabulary भी बढ़ेगी. इस माइंड गेम को खेलने के लिए 3-4 बच्चे चाहिए.

आप एक बच्चे को एक शब्द दे, जैसे: राजा
बच्चे ने कहा “राजा घोड़े पर जा रहा था.”
फिर आपने कहा ‘शेर’
अब अगला बच्चा बोलेगा.
इसी तरह से आप सारे बच्चों को एक-एक करके शब्द देते रहे. बच्चे कहानी बनाते रहेंगे.

यह कहानी तब तक चलेगी, जब तक किसी निष्कर्ष पर न पहुँच जाएं.

शब्दों से कहानी बनाना

उम्र: 6 साल और उससे बड़े बच्चे

खेल की सामग्री: चार-पाँच बच्चे
स्पेशल नोट: आप कहानी का थीम दे सकते है, जैसे: समुद्री डाकू, जानवर

13. पिक्श्नरी:

पिक्शनरी, बच्चों के लिए बेहतरीन गेम में से एक है. इससे बच्चों का दिमाग़ी विकास होता है. इस गेम में बच्चे-बड़े सब शामिल हो सकते हैं. इस गेम में बच्चों को ड्रॉइंग बनानी होती है, जिससे बच्चों को और भी मज़ा आता है.
इस गेम को ऐसे खिलाएं.

दो टीम बना ले, टीम -1, टीम-2.
अब टीम-1 के एक मेम्बर को कोई शब्द दे. वह उसका चित्र बनाकर अपनी टीम को दिखाएगा और टिम के बाक़ी मेम्बर्ज़ को वह चित्र पहचानना है. अगर वह पहचान जाते हैं, तो उन्हें 1 पोईंट मिलेगा.

इसी तरह टीम-2 के एक मेम्बर को एक शब्द बताएँगे और उसे अपनी टीम को चित्र बनाकर दिखाना है. वे उस शब्द को पहचानेंगे, उन्हें 1 पोईंट दिया जाएगा.

अंत में जो टीम सबसे ज़्यादा पोईंट लेगा. वह टीम जीत जाएगी.

उम्र: 5 साल और उससे बड़े बच्चे

खेलने की सामग्री: बोर्ड, चाक, डस्टर और रिवार्ड
स्पेशल नोट: जितने ज़्यादा बच्चे होंगे, उतना ज़्यादा मज़ा आएगा.

​14. 100-pieces पज़ल गेम:

यह क्लासिक Best Brain Game For Kids है. इस पज़ल गेम से बच्चों की फ़ाइन मोटर स्किल्लस, इमेज रेकग्निशन और प्रॉब्लम साल्विंग इम्प्रूव होती है.

इस बच्चों के गेम से बच्चा हाथ में लिया लम्बा काम धेर्य से करना सीखेगा और इस गेम से देर से मिलने वाली ख़ुशी को भी महसूस करेगा.

उम्र: 4 साल और इससे अधिक उमे के बच्चे
खेलने की सामग्री: पज़ल गेम,पज़ल का प्रिंट या मोबाइल में पिक
स्पेशल नोट : पज़ल के ज़्यादा ​pieces​ बच्चों के गेम को और चुनौतिपूर्ण बनाएँगे.

15. Rubik’s Cube:

बच्चों को दिमाग़ी खेल खिलाने के लिए रूबिक क्यूब भी एक शानदार गेम है. यह छोटे-छोटे क्यूब से बना एक बड़ा क्यूब बॉक्स होता है. इसकी चारो साइड अलग-अलग कलर की होती है. आप इसे उल्टा-पूलटा घुमा कर बच्चे को दे. उसे वापिस क्यूब को उसके रंग वाली साइड में पहुँचना है. बच्चों के दिमाग़ को तेज करने के लिए यह गेम बहुत अच्छा है.

Buy on Amazon

 

उम्र: 8 साल और इससे ऊपर के बच्चे
खेलने के लिए सामग्री: रूबिक क्यूब
स्पेशल नोट: आप इस ब्रेन गेम को बच्चे को कभी भी ब्रेक टाइम में खेलने को दे सकते हैं.

16. शतरंज :

बच्चों के माइंड गेम्स में  शतरंज एक ऐसा दिमाग़ी खेल है, जो बोर्ड पर खेला जाता है. यह एक बहुत अच्छा माइंड गेम है. यह बच्चों का गेम, बच्चों के मानसिक विकास के लिए बहुत फ़ायदेमंद हैं.

शतरंज में 36 मोहरे होते हैं. आधे काले होते हैं और आधे सफ़ेद. इसके खेलने के लिए दो बच्चे चाहिए. हरेक बच्चे के पास 9-9 सिपाही,2-2 घोड़े, ऊँट व हाथी और 1-1 राजा और वज़ीर होते हैं.

इस खेल में राजा एक घर चल सकता है, आगे-पीछे, दाएं-बाएं, और आड़ा-तिरछा. शतरंज में वज़ीर सबसे ताकतवर होता है. वह हर मोहरे की तरह चलता है सिर्फ़ घोड़े की चाल नहीं चल सकता.

शतरंज का हाथी सीधी दिशा में, दाएं व बाएं दिशा में कई घर चल सकता है. ऊँट सिर्फ़ तिरछी दिशा में चलता है.

सफ़ेद स्क्वेर वाला सफ़ेद ऊँट तिरछी दिशा में सफ़ेद स्क्वेर में ही चलेगा. ऐसे ही काला ऊँट तिरछी दिशा में सिर्फ़ काले बॉक्स में चलेगा.

घोड़ा सामने रखे मोहरे कूद सकता है और ढाई घर चल सकता है.

प्यादे शुरुआत में दो घर और उसके बाद सिर्फ़ एक घर चल सकते है. किसी को मारने के लिए तिरछे चलते हैं.

वही खिलाड़ी जीतता है जो सामने वाले राजा को चेक और मेट देता है व राजा को मात देता है.

Buy on Amazon

 

उम्र: 5 साल और उससे बड़े बच्चे
खेलने की सामग्री: शतरंज का सेट
स्पेशल नोट: शतरंज के मोहरे को किसी कहानी से जोड़ सकते हैं.

बच्चों को ब्रेन गेम खिलाने से पहले इन बातों का ज़रूर रखे ध्यान:

बच्चों के लिए बहुत प्यारे- प्यारे माइंड गेम्स आपको पता चल चुके हैं. लेकिन बच्चों को ब्रेन गेम्स खिलाने के लिए आपको कुछ बातें ज़रूर ध्यान रखनी चाहिए.

1. खुद इन्वोल्व हो : अगर आप खुद बच्चों के साथ इन बच्चों के गेम को खेलोगे तो उनकी रुचि बढ़ेगी. आप आस-पास के बच्चों को, बच्चे के दोस्तों को शामिल करें.

2. तारीफ़ करे : अगर बच्चे छोटे हैं तो उनके लिए नियम आसान करे और उनकी खूब तारीफ़ करे. बच्चों का उत्साह बढ़ता है. खेल को खेल की तरह ले. गलती करने पर न डॉंटे. यह गेम बच्चों के मनोरंजन के लिए है.

3. पेशेन्स रखे : बच्चे खेलते-खेलते इनमे बेहतर होते जाएँगे. उसी तरह जैसे आप बच्चे को साइकिल चलाना सिखाते हैं और बच्चा सीख नहीं पाता. उसे बैलेन्स करना सीखने में टाइम लगता है. लेकिन वह एक दिन साइकिल चलाने में एक्स्पर्ट हो जाता है. बस आपको धेर्य रखना है. पेरेंटिंग की सबसे बड़ी शक्ति धैर्य है.

अब हम आपको ऐसी बुक़्स बता रहे हैं, जिसमें से आप बच्चों के बहुत सारे गेम बना पाएँगे.

1. Difficult Riddles For Smart Kids:

इस बुक में 1000 से ज़्यादा riddles हैं.
ट्रिक questions और ब्रेन टीज़र्ज़ हैं जो पूरा परिवार मिलकर खेल सकता है.
4-8 साल के बच्चों के लिए.
9-12 साल के बच्चों के लिए.

Buy on Amazon

 

2. Brain Games For Clever Kids:

यह एक best seller बुक है.
7-10 साल के बच्चों के लिए है.
इसमें 100 से भी ज़्यादा ब्रेन गेम हैं.
लॉजिक पज़ल हैं.
वर्ड गेम भी हैं.

Buy on Amazon

 

3. Gisko Combo of Activity and Maths Activity Book – 2 for kids

यह बुक 4-7 साल के बच्चों के लिए है.
इसमें 150 से भी ज़्यादा ऐक्टिविटीज़ हैं.
इस किताब के गेम बच्चे के दिमाग़ को शार्प करते हैं.
इस बुक में मेज़,मिरर इमेज,पिक्चर पज़ल,स्पॉट द डिफ़्रेन्स,मैचिंग, वर्ड सर्च जम्बल्ड वर्डस, सीक्वन्सिंग

Buy on Amazon

 

Conclusion:

हमने आपको इस लेख में बताया है कि कैसे बच्चों को तेज बनाएं, बच्चों के बेस्ट गेम से. बच्चों के लिए 16 लाजवाब और रोचक माइंड गेम्स के बारे में विस्तार से बताया है. ये गेम आपके बच्चों को मोबाइल से छुटकारा दिलवा देंगे.

बच्चों के ये ब्रेन गेम बच्चों का मानसिक विकास करने में आपकी बहुत सहायता करेंगे. इन दिमाग़ी खेल की मदद से बच्चों की लॉजिकल रीज़ॉनिंग बहुत बढ़िया हो जाएगी. जो उन्हें बड़े-बड़े कंपीटिशन में सफलता दिलवाएगी और ये सब कैसे खेल-खेल में हो जाएगा. आपको पता भी न चलेगा.

FAQ :

1. बच्चों को गेम खेलने से क्या फ़ायदा है ?

ans. बच्चों को खेलने से बहुत फ़ायदे होते है.
खेलो से बच्चों का शारीरिक और मानसिक विकास होता है. उनमें पेशेन्स आता है. वे टीम वर्क सीखते हैं. बच्चों की प्रॉब्लम साल्विंग क्षमता बढ़ती है.

2. घर पर कौन से खेल खेल सकते हैं?

ans. घर पर आप बच्चे के साथ मिरर इमेज,आड वन आउट,पज़ल,शतरंज,नम्बर सिरीज़ खेल सकते हैं. बच्चों को इनमे बहुत मज़ा आता है.

3. क्या गेम खेलने से दिमाग़ का विकास होता है ?

ans. गेम खेलने से बच्चा दिमाग़ का व्यायाम करता है. वह गेम में जीतने की पूरी कोशिश करता है, जिससे उसे दिमाग़ का इस्तेमाल करना पड़ता है और दिमाग़ शार्प हो जाता है.


Vibha Sharma

Hi, मैं Vibha Sharma हूँ. मैं एक Child Development Expert और Mom Influencer हूँ. मैं Maonduty की Founder हूँ. मैं तीन बच्चों की माँ हूँ. मेरी बड़ी बेटी Mechanical Engineer है, छोटी बेटी Lawyer है और बेटा Reputed College से Law कर रहा है. मेरे बच्चे हमेशा Scholar रहे. उन्होंने बहुत सारे इनाम जीते Debates, Essay writing, sports, arts, story telling, fancy dress and Theatre etc मैं यहाँ आपको Parenting के पर्सनल अनुभव share कर रही हूँ. मेरा mission 100000000+Parents की parenting journey को Happy and Easy बनाना है 🙏😊❤️ आप मुझे Instagram पर भी follow कर सकते है. मैं वहाँ Calm Parenting tips देती हूँ.😊💐

0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Summer Vacation में बच्चों से कराएं ये 5 चीज़ें और उन्हें बनाएं Confident और Independent बच्चों को Mentally strong बनाने के लिए इनमें से 1 चीज़ ज़रूर सिखाएं हनुमान जी के नाम पर बच्चों के मॉडर्न, अद्भुत और साहसी नाम